Amazing Tulsi Benefits in Hindi – तुलसी: प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाली जड़ी बूटी

Tulsi herb is widely used around the world due to its powerful health benefits. Its botanical name is Ocimum Sanctum. Tulsi has medicinal benefits and is a powerful antioxidant. So, we are going to elobarate types and amazing tulsi benefits in hindi language.

तुलसी – एंटी ऑक्सीडेंट: #Tulsi in Hindi

तुलसी को “इंडियन बेसिल” के नाम से जाना जाता है और अंग्रेजी में इसे “होली बेसिल” भी कहा जाता है। यह एक संस्कृत नाम है।

भारत में इसको “जड़ी बूटियों की रानी” भी कहा जाता है और देवी लक्ष्मी के रूप में सम्मान भी दिया जाता है। कहें तो समृद्धि की रानी भी कहा जा सकता है। इसलिए तुलसी को “श्री (लक्ष्मी) तुलसी” या “रामा तुलसी” या “विष्णु तुलसी” के नाम से भी जाना जाता है।

तुलसी हर एक भारतीय हिंदू परिवार के घर में उगाई जाती है। जैसा कि हम जानते हैं कि इसे एक पवित्र जड़ी-बूटी माना जाता है तथा स्वास्थ, संपत्ति और समृद्धि की देवी के रूप में भी पूजा जाता है।

दुनिया भर में तुलसी की लगभग 60 प्रजातियां हैं और व्यापक रूप से इन प्रजातियों को दो श्रेणियों में बांटा गया है।

तुलसी के व्यापक प्रकार: #Types of Tulsi

पहला होली बेसिल (ओसिमम् सेन्कटम्)

दूसरा मेडिटेरेनियन बेसिल (ओसीमम् बेसिलिकम)

इंडियन तुलसी के प्रकार: #Types of Indian Tulsi

  • रामा तुलसी” या “श्री तुलसी” (ओसीमम् सेन्कटम्) (हरी पत्तियां): ज्यादातर भारत, चाइना, ब्राजील और पूर्वी नेपाल के इलाकों में यह तुलसी पाई जाती है।
  • कृष्णा तुलसी” या “श्यामा तुलसी” (बैगनी रंग की पत्तियां): यह तुलसी ज्यादातर एशियाई देशों में पाई जाती है और मुख्यतः कहे तो भारत में ज्यादा पाई जाती है।
  • वना तुलसी (जंगली पत्तियां): ज्यादातर एशियाई और अफ्रीकन देशों में पाई जाती है।
  • कपूर तुलसी (वजनदार फूल): ज्यादातर भारत और यूनाइटेड स्टेट्स में पाई जाती है।

आयुर्वेद में, रामा तुलसी और कृष्णा तुलसी का प्रयोग बहुत ही व्यापक रूप से होता है। कृष्णा तुलसी (बैगनी पत्ते वाली तुलसी) स्वांस तंत्र, गले के संक्रमण, नाक के घाव, कान दर्द और त्वचा संबंधी रोगों को ठीक करने में बहुत फायदेमंद होती है।

ऊपर बताए गए तुलसी के चारों प्रकार होली बेसिल श्रेणी के अंतर्गत ही आते हैं।

तुलसी का एरियल(हवाई) अंग ही विशेष रुप से चिकित्सक उपचारों में काम आता है, जैसे काड़ा सूप। इसकी पत्तियां दिखने में हरे या बैगनी रंग की, अंडेकार और नुकीली नोक जैसी होती हैं।

स्वास्थ्य लाभ: #Tulsi Benefits in Hindi

  • इसका प्रमुख लाभ हमारे शरीर की प्रतिरोधक क्षमता (इम्यूनिटी) को बढ़ाना होता है।
  • यह ऑक्सीकरणरोधी (एंटीऑक्सीडेंट) के रूप में काम करती है। यह हमारे शरीर में फ्री रेडिकल्स के द्वारा की गई क्षति को कम करने में सहायता करती है।
  • तुलसी हमारे शरीर में द्रव्य पदार्थों (बॉडी फ्लूड), हार्मोनल और इंजॉयमैटिक कार्यों का संतुलन बनाए रखने में सहायता करती है।
  • तुलसी एंटीबैक्टीरियल, एंटीबायोटिक, जर्मीसाइडल, फंगीसाइडल और एंटीपायरेटिक (बुखार को रोकना) की तरह भी काम करती है।
  • यह पेनक्रिएटिक बीटा सेल्स के कार्यों को करने में सहायता करती है, जिससे इंसुलिन को नियंत्रित करने में सहयोग मिलता है। इसलिए तुलसी को डायबिटीज रोधक के नाम से भी जानते है।
  • तुलसी दिल से संबंधित बीमारियों से भी हमें बचाती है।
  • तुलसी डाईयूरेटिक (यूरिक एसिड संबंधी) और डिटॉक्सिफायर (विश को कम करने) के रूप में कार्य करती है इसलिए यह शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा को घटाने में भी सहायक है।
  • यह एंटीइन्फ्लेमेटरी (सूजन कम करने में) दवा के रूप में सहायक है।
  • तुलसी एनाल्जेसिक (दर्द निवारक) जड़ी बूटी है।
  • तुलसी हैपेटोप्रोटेक्टिव (लीवर स्वास्थ्य संबंधी) विशेषता के लिए भी जानी जाती है।
  • यह कैंसर कोशिकाओं के स्वास्थ्य के लिए भी लाभप्रद है।
  • तुलसी रक्त वाहिनी (ब्लड वेसल्स) के देख-रेख में सहायता करती है।
  • यह तनाव रोधक (डीस्ट्रेसर) के रूप में कार्य करती है।

तुलसी के उपयोग: #Uses of Tulsi

  • यह हर्बल टी के रूप में भी उपयोग में लाई जाती है क्योंकि इसमें एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं।
  • तुलसी के तेल का प्रयोग कानों के लिए एयरड्राप के रूप में किया जाता है।
  • इसका उपयोग सिरदर्द, अपच, कान दर्द, बुखार, मिर्गी, हैजा, अनिद्रा, मलेरिया आदि जैसी आम बीमारियों को शीघ्र दूर करने के लिए किया जाता है।
  • तुलसी का पौधा आस्था का प्रतीक है। यह माना जाता है कि तुलसी हमें नकारात्मक प्रभावों से बचाती है। इसी वजह से यह हर जगह उगाई जाती है।
  • तुलसी की लकड़ी हस्तशिल्प आभूषणों के लिए उपयोग में लाई जाती है।

उपयोग के निर्देश: #Use Directives

तुलसी की पत्तियां, तुलसी का पाउडर या तुलसी टेबलेट को सामान्य पानी के साथ लिया जाना चाहिए।

एमवे न्यूट्रीलाइट तुलसी: #Amway Tulsi

Amway एक बहुदेशीय कंपनी है। जो उत्तम श्रेणी के प्राकृतिक सप्लीमेंट्स प्रदान करने के लिए विख्यात है। यहां तुलसी को बनाने का आधार प्रकृति की श्रेष्ठता, विज्ञान की श्रेष्ठता और परंपरागत बुध्दीमत्ता की श्रेष्ठता का अनूठा संगम है।

Amway तुलसी ही क्यों प्रयोग करें ?

  • उच्च स्तरीय उत्पादन प्रक्रिया: तमिलनाडु स्थित अत्याधुनिक प्लांट में उत्पादन की बेहतर उत्पाद प्रक्रियाओं का पालन करते हैं।
  • न्यूट्रास्यूटिकल गाइडलाइन अनुपालनकर्ता: एफ एस एस ए आई (FSSAI) द्वारा निर्धारित करें उत्पाद मार्गनिर्देशों का पालन करते हैं।
  • एक्टिव इनग्रेडिएंट: पौधों के एक्टिव इनग्रेडिएंट का ही प्रयोग करते हैं।
  • नॉन-जी एम ओ (Non-GMO) बीज: जेनेटिकली तैयार बीज प्रयोग में नहीं लाए जाते हैं।
  • सर्टिफाइड ऑर्गेनिक फार्म: श्रेष्ठ उत्पाद की शुरुआत शुद्ध जड़ी बूटियों के साथ करते हैं।
  • डीएनए फिंगरप्रिंटिंग हर्ब: जड़ी बूटियों की विभिन्न प्रजातियों में से सबसे अत्यधिक क्षमता वाली जड़ी बूटी का पता लगाने के लिए इस टेक्नोलॉजी का उपयोग किया जाता है।
  • उपरोक्त सभी विशेषताओं के आधार पर उत्तम पीएसपी (शुद्धता, सुरक्षा और प्रभाव) की जड़ी बूटी का चयन करना।

तुलसी विटामिन ए, विटामिन सी, कैल्शियम, जिंक, और आयरन का अच्छा स्रोत है। इसमें एंटीबैक्टीरियल और इंसेक्टिसाइडल विशेषताएं होती हैं तुलसी की पत्तियों में गंदे पानी को शुद्ध करने की क्षमता भी होती है।

healthjaagran

Hopefully, i think now you would be aware about the features and health benefits of tulsi herb. Here tulsi benefits in Hindi language might have helped a lot to hindi lovers. Information regarding tulsi benefits in hindi has been shared to you so simply with deep understanding.

Enjoy and share your feelings about the article. Did it help you or not. Plz share and suggest us on e-mail.


Tulsi Rose Tea

Mint Green Tea

Tulsi, Moringa & Mint Tea

Cinnamon Tea

Glad to see you. Please share your feelings with us.