Tag Archives: #physicalhealth

Health Meaning in Hindi and Its Importance : Hindi Podcast

Health is wealth. So, we need to be aware about its importance. Know health meaning in Hindi and help yourself in booting healthy life.

Health Definition, Types, Health Pillars and Importance Of Health: HINDI

Check and listen given below audio file to know definition of health, its types and importance for getting healthy lifestyle.

https://healthjaagran.com/wp-content/uploads/2020/05/health-definition-pillars-and-its-importance-1.mp3
Episode – Health definition, types, pillars and its importance (HINDI): Health Jaagran

Best lifestyle books collection

Wonderful Health Tips in Hindi for Your Healthy and Wealthy Life

“Health is Wealth” is a very common proverb among us. But many of us are not aware about it. The role of health and fitness in our life is most valuable to achieve optimal health. Here, we are going to elaborate the facts of healthy life in Hindi. So, you are welcome to check health tips in Hindi language.

स्वास्थ्य क्या है ? (#Health tips in Hindi)

साधारण तौर पर अगर कहा जाए कि स्वास्थ्य क्या है ? तो हमारे समाज में यह समझा जाता है कि किसी भी व्यक्ति को यदि कोई बीमारी नहीं है तो वह व्यक्ति स्वस्थ है। यहां तक समझा जाता है कि किसी व्यक्ति को कोई चोट, कमजोरी या दर्द नहीं है तो वह व्यक्ति स्वस्थ है।

परंतु ,

डब्ल्यूएचओ, WHO (विश्व स्वास्थ्य संगठन) क्या कहता है?

डब्ल्यूएचओ, WHO स्वास्थ की व्याख्या करते हुए कहता है कि यह वह अवस्था है जिसमें कोई भी व्यक्ति शारीरिक, मानसिक और सामाजिक रूप से पूरी तरह स्वस्थ होता है। केवल रोगों का अभाव होना ही अच्छा स्वास्थ्य होना नहीं है।

(अच्छा स्वास्थ्य = शारीरिक + मानसिक + सामाजिक स्थिति )

हमारे शरीर, मस्तिष्क और व्यवहार के बीच का अच्छा संतुलन ही हमारे अच्छे स्वास्थ्य को दर्शाता है।

शारीरिक अवस्था (शरीर संबंधी)/ #Physical Health

  • शरीर की संरचनात्मक अवस्था संबंधी
  • भौतिक अवस्था
  • जैविक-रासायनिक अवस्था
  • शारीरिक अवस्था की जांच करने के लिए एंथ्रोपोमेट्रिक तरीके, सीवीसी (कंपलीट ब्लड काउंट टेस्ट), सीयूटी (कंप्लीट यूरिन टेस्ट), केएफटी (किडनी फेल टेस्ट), एलएफटी (लिवर फेलर टेस्ट), आर एस टी (रिनल फैलियर टेस्ट) आदि का उपयोग किया जाता है।

मानसिक अवस्था (मस्तिष्क से संबंधी)/ #Mental Health

  • मनोवैज्ञानिक अवस्था
  • आध्यात्मिक अवस्था
  • जीवन जीने की शैली
  • दूसरों के साथ संबंध
  • तनाव का स्तर
  • मानसिक अवस्था की जांच आइक्यू टेस्ट, पर्सनैलिटी टेस्ट आदि से की जाती है।
  • मानसिक परेशानियों का पता अनेक प्रकार के लक्षणों के अनुभव और अवलोकन के बाद ही चलता है और जिसका परिणाम साइकेट्रिक डायग्नोसिस के रूप में मिलता है। जबकि मनोवैज्ञानिक समस्याओं के साथ, चिकित्सक रोगी के सामाजिक और वातावरणिक कारकों से प्रभावित लक्षणों की परिकल्पना तैयार करता है।

सामाजिक अवस्था (व्यवहार से संबंधी)/ #Social Health

  • परिवेश में रहने का तरीका
  • सांस्कृतिक रूप
  • परंपरागत जीवन यापन
  • समाज में बातचीत करने का तरीका
  • किसी भी व्यक्ति के सामाजिक अवस्था की जांच उसकी व्यक्तिगत और सामाजिक व्यवहार उसकी साक्षरता का स्तर उसका रोजगार समाज में सम्मान बातचीत करने की योग्यता आदि से की जाती हैं।

इसके अलावा सर्वोत्तम स्वास्थ्य को हम यह भी कह सकते हैं कि यह वह अवस्था है जिसे हम शारीरिक व्यायाम, सकारात्मक मानसिक व्यवहार, उचित आराम और अच्छा पोषण लेकर प्राप्त कर सकते हैं।

सर्वोत्तम स्वास्थ्य के स्तंभ (Pillars: Health tips in Hindi)

पहला E(शारीरिक व्यायाम )

दूसरा A(सकारात्मक व्यवहार या रवैया )

तीसरा R(उचित आराम )

चौथा N(अच्छा पोषण )

इसलिए हम कहते हैं कि सर्वोत्तम स्वास्थ्य अपने आप नहीं मिलता है, उसे हमें कमाना (EARN) पड़ता है।

E(शारीरिक व्यायाम)= चिकित्सा विज्ञान और चिकित्सकों का अनुभव और सुझाव है कि हर व्यक्ति को दिन में कम से कम 30 से 45 मिनट शारीरिक व्यायाम करना चाहिए जिसमें पसीना निकलता हो।

A(सकारात्मक व्यवहार या रवैया)= दुनिया के हर एक सफल व्यक्ति का सुझाव है कि किसी भी क्षेत्र में सफलता प्राप्त करने के लिए सकारात्मक व्यवहार होना आवश्यक है और इस सकारात्मक व्यवहार को लाने के लिए हमें प्रतिदिन लगातार सकारात्मक किताबें पढ़ना चाहिए और उत्साहित करने वाली सकारात्मक ऑडियो या वीडियो सुनने/देखने चाहिए।

R(उचित आराम)= चिकित्सा विशेषज्ञों के अनुसार हर किसी व्यक्ति को रोजाना कम से कम 6 से 8 घंटे की नींद (घोड़े बेचके सोना) लेनी चाहिए।

N(अच्छा पोषण)= शरीर की हर एक कोशिका के विकास, मरम्मत, रखरखाव और बाहरी तत्वों से रक्षा करने के लिए प्रतिरोधक क्षमता को अच्छे पोषण के साथ ही प्राप्त किया जा सकता है।

इलाज से बेहतर रोकथाम है। इसलिए सावधान रहिए, अपनी स्वास्थ्य अवस्था के लिए सचेत रहिए एवं अपने और अपने चारों ओर के वातावरण को बचाए।

Health Tips in English

Health Tips in Hindi Video


Best lifestyle books collection